नाजायज रिश्ता (भाग -7)- मीनाक्षी सिंह : Moral stories in hindi

अभी तक आपने कहानी “नाजायज रिश्ता “में पढ़ा कि विभू और रिया का रिश्ता अच्छा चल रहा है ….. कि तभी  अचानक से पास वाली दुकान के लड़के की बात  का रिया पर बहुत ही असर होता है….. वह घर आकर उदास हो जाती है….. विभू  शाम को थका हारा घर आता है ….. रिया  … Read more

नाजायज रिश्ता (भाग -6)- मीनाक्षी सिंह : Moral stories in hindi

अभी तक आपने कहानी नाजायज रिश्ता  में पढ़ा कि विभू और रिया की शादी हो चुकी है…. अभी एक ही दिन हुआ है कि तभी पता चला कि विभू का तबादला  दूसरे शहर में हो गया है….. रिया उदास रहने लगी…. उसकी सासू मां ने उसे विभू के साथ भेजने की तैयारी करी….. उन्होंने विभू … Read more

नाजायज रिश्ता (भाग -5)- मीनाक्षी सिंह : Moral stories in hindi

जैसा कि अभी तक आप सबने पढ़ा कि रिया और विभू  की शादी हो चुकी है….. रिया ससुराल आ गयी है …. रिया का स्वागत किया जा रहा है….. रिया ने  अभी घर में प्रवेश किया ही है कि तभी रिया की ताई सास ने उसे रोका …… और बोली ….. अब आगे….. यह क्या … Read more

नाजायज रिश्ता (भाग -4)- मीनाक्षी सिंह : Moral stories in hindi

अभी तक आप सबने पढ़ा कि आज विभू  और रिया की शादी है……. बारात गेस्ट हाउस पहुंच चुकी है……. तभी बारातियों को गेट पर ही चार-पांच लोगों  ने रोक लिया…… यह क्या यह तो पुलिस वाले थे ……. अब आगे …… विभू के परिवार वाले घबरा गए ……. कि ऐसा क्या हो गया कि यह … Read more

नाजायज रिश्ता (भाग -3)- मीनाक्षी सिंह : Moral stories in hindi

जैसा कि अभी तक आपने कहानी नाजायज रिश्ता में पढ़ा कि  विभू और रिया की सगाई हो चुकी है…… आज उनकी हल्दी है …… विभू  पीले रंग का कुर्ता पजामा पहने हुए हैं …… और दूसरी तरफ रिया पीले रंग की साड़ी में बहुत ही खूबसूरत लग रही है ……. कि तभी रिया को…… अब … Read more

नाजायज रिश्ता (भाग -2)- मीनाक्षी सिंह : Moral stories in hindi

अभी तक आप लोगों ने इस कहानी में पढ़ा कि रिया की शादी अपने से 11 वर्ष बड़े  लड़के  विभू के साथ तय हो गई है…… घर में सगाई की तैयारी चल रही है…… आज सगाई का दिन है….. सभी लोग गेस्ट हाउस पहुंच चुके हैं….. लड़के वाले  भी आ चुके हैं….. अब आगे……. रिया … Read more

नाजायज रिश्ता (भाग -1)- मीनाक्षी सिंह : Moral stories in hindi

का हो बिटवा……देख आयो  छोरा……. खाट पर बैठी अम्मा बेटे रघुवीर  से बोली…… हां अम्मा…..देख आए…… का कुछ बात बनी…….?? अच्छा पहले शिकंजी पी लैं….. फिर बता का कही छोरा वारों ने…… का बताऊं अम्मा…….बाकी सब बढ़िया….. हमारी लाली रिया तो उन्हे पहली नजर में ही पसंद आ गयी थी …… छोरा सरकारी नौकरी में … Read more

माँ जी आपका खर्च अब हम नहीं चला सकते – मीनाक्षी सिंह : Moral Stories in Hindi

आज 1 तारीख थी …..बहु देविका ने सास सविताजी को सब्जी का थैला पकड़ा दिया…. और उनकी लाई गई पेंशन में से ₹200 निकालकर उन्हें सब्जी लाने के लिए भेज दिया….. बेचारी 70 वर्षीय सरिताजी हर महीने की 1 तारीख को इसी तरह कभी सब्जी लेने ,,,कभी परचून का सामान,,,लेने तो कभी कोई और काम … Read more

मैने देरी कर दी बहू… – मीनाक्षी सिंह : Moral Stories in Hindi

बहु,,,,,तेरी मां कैसी है ??? सुना है कि जब से तेरे पिताजी गए हैं तब से बिल्कुल अकेली हो गई है,,,ना तो कुछ खाती है और ना ही खुद का ख्याल रखती हैं….. अभी-अभी मायके से आई बहुरानी सुरभि से सासू मां सुधाजी बोली…… अपनी तेज तर्रार सासू मां के मुंह से ऐसी बात सुन … Read more

एक प्यार ऐसा भी …(भाग -50) – मीनाक्षी सिंह : Moral Stories in Hindi

जैसा कि आप सबने अभी तक पढ़ा कि राजू इंटरव्यू में भी पास हो गया है … ऑफिसर बन चुका है ….. सचिन के बताने पर कि निम्मी सिर्फ तुमसे प्यार करती है राजू…. उसे अपना लो…. यह सुन राजू की ख़ुशी का ठिकाना नहीं है …. राजू गांव के लिए निकलना चाहता है तभी … Read more

error: Content is Copyright protected !!