अपनों सा…! : Moral stories in hindi

तालियों की गड़गड़ाहट से पूरा हॉल सन चुका था।  उसके साथ ही मयूर पब्लिकेशन के मैनेजर प्रकाश और मेरे घनिष्ठ मित्र बैंक मैनेजर लालजी सबके चेहरे पर एक गर्वित मुस्कुराहट छा गई। मंच के आयोजक ने तालियों की गड़गड़ाहट के बीच मेरे पास आकर कहा “आज के शुभ अवसर पर हमारे लेखक महोदय अरुण आकाश … Read more

फैसला – शिव कुमारी शुक्ला: Moral stories in hindi

अवनी और  आकाश दोनों ही साफ्टवेयर इंजीनियर थे। वे एक  कनाडा की  कम्पनी में पचहत्तर – पचहत्तर लाख बार्षिक वेतन पर कार्यरत थे। उनके पास सारे, भौतिक सुविधा के संसाधन थे। कनाडा में वह आरामदायक, ऐश्वर्य पूर्ण जीवन जी रहे थे। उन्हें वहाँ रहते पाँच साल होने  जा रहे थे । किन्तु उनके  दिल के … Read more

गुल खिलाना – वीणा सिंह : Moral stories in hindi

गाड़ी में बैठकर अनूप ने सीट बेल्ट बांधा और गाड़ी हवा से बातें करने लगी.. मुझे हर हाल में तुहिना के पहले एयरपोर्ट पहुंचना होगा ड्राइवर को निर्देश दे परेशान अनूप इष्टदेव को याद करने लगा.. एयर पोर्ट शहर से बहुत दूर था, बिल्कुल एक छोर पर.. तुहिना से पहले पहुंचना होगा वरना.. जब से … Read more

शर्मसार – रश्मि झा मिश्रा। : Moral stories in hindi

भैया आपको जरा भी शर्म नहीं आई… ऐसे आने में… देखिए सब कितना कुछ लाए हैं… कितने महंगे महंगे गिफ्ट… गहने.. कपड़े.. और आप क्या सिर्फ चांदी की मठिया और कपड़े लेकर आ गए… क्या कहूंगी मैं सबको… कैसे दिखाऊंगी… अब तो शर्मसार करना बंद करिए… हमेशा से आपका वही रोना रहा है….!  नीता अपने … Read more

समय का पहिया कब , कैसे , घूम जाए कोई नहीं जान सकता !! – स्वाती जैंन : Moral stories in hindi

संजना बहुत सारी शापिंग करके बाजार से खुशी खुशी लौट ही रही थी कि , रिक्शा से बाहर उसकी नजर एक आदमी पर पड़ी , जिसे देख वह चौंक गई और उसने रिक्शा वाले से कहा – भैया !! ऑटो रोकना जरा !! रिक्शा वाला ऑटो रोकता उससे पहले ही एक कार आई और वह … Read more

चटोरा कौन !! – संगीता अग्रवाल : Moral stories in hindi

सलोनी आज अपने पति राज के साथ पहली बार मुंबई जा रही थी जहाँ राज नौकरी करता है । यूँ तो उसकी शादी को दो महीने हो गये थे लेकिन शादी के तुरंत बाद राज उसे अपने साथ नही लाया था क्योकि वो चाहता था सलोनी कुछ दिन ससुराल मे रुककर ससुराल वालों को जाने … Read more

कटी पतंग – डाॅ उर्मिला सिन्हा : Moral stories in hindi

  हवाई यात्रा के दौरान केतकी की भेंट कलश से हुई थी। दरअसल दोनों सिंगापुर जा रहे थे अपने-अपने काम से। दोनों की पहली विदेश यात्रा थी। थोड़ा कौतूहल और घबडा़हट स्वाभाविक था।  प्लेन के उडते ही केतकी ने कमर की पेटी ढीली की… इधर-उधर नजरें दौडाई… बराबर के सीट से कलश उसे ही देख रहा … Read more

गलत के खिलाफ – आरती झा आद्या : Moral stories in hindi

नहीं मैं पुलिस कंप्लेन वापस नहीं लूॅंगी, मेरा भाई है तो क्या हुआ? उन लड़कियों का भी तो सोचिए, जिन्हें यह दिन भर गंदे गंदे संदेश भेज कर परेशान करता रहता है। मैं भाई के खिलाफ नहीं गलत के खिलाफ हूॅं। मालिनी के शिकायत दर्ज कराने पर पुलिस स्नातक कर रहे उसके भाई रवीश को … Read more

अब तो शर्मसार करना बंद करो- मनीषा सिंह। : Moral stories in hindi

“नहीं मम्मी, आप रहने दो—–! मुझे अभी शादी नहीं करनी है! “पापा प्लीज समझाइए ना मम्मी को, संजना अपने पापा कैलाश जी से बोली। ” पर बेटा यह रिश्ता अच्छा है” तभी तो तेरी मां इतनी जिद कर रही है कैलाश जी अपनी पत्नी पुष्पा जी के बात का समर्थन करते हुए कहा। ” हां … Read more

सोने चाँदी का भेद – रश्मि प्रकाश : Moral stories in hindi

दमयंती जी के घर आज सुबह से ही सारे लोग शाम के उत्सव की तैयारी में जुटे हुए थे। ख़ुद दमयंती जी एक एक काम की बारीकी से जाँच पड़ताल कर रही थीं। आने वाले मेहमानों की फ़ेहरिस्त लंबी होती जा रही थी। घर की साजों सज्जा में कोई कमी नहीं थी। शाम को घर … Read more

error: Content is Copyright protected !!